भाजपा BJP के प्रवक्ता बोले- दबाव में चुनाव आयोग एमएलसी के  चुनाव में देर कर रही  चुनाव आयोग

भाजपा BJP के प्रवक्ता बोले- दबाव में चुनाव आयोग एमएलसी के  चुनाव में देर कर रही  चुनाव आयोग

बिहार में एमएलसी चुनाव में देर हो रही है। इस देरी पर RJD ने सवाल उठाया है। पार्टी के प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने सवाल किया है कि कोरोना की तीसरी लहर के बाद स्थिति अब सामान्य हो चुकी है। 5 राज्यों में चुनाव भी हो रहे हैं। फिर भी बिहार विधान परिषद चुनाव में देर क्यों हो रही है ?

मृत्युंजय तिवारी ने कहा है कि इसके पीछे भाजपा साजिश कर रही है। चुनाव आयोग तो महज भाजपा का एक प्रकोष्ठ बन कर रह गया है। पिछले साल जुलाई माह में बिहार विधान परिषद की 24 सीटों पर एमएलसी का कार्यकाल पूरा हो चुका है। नियमानुसार रिक्त हुई सीटों पर 6 महीने के अंदर चुनाव कराने का प्रावधान है। 

पंचायत के चुनाव में राजद के समर्थकों की  जीत

एमएलसी चुनाव के लिए राजद ने अपने ज्यादातर उम्मीदवारों के नाम की सूची जारी कर दी है। कांग्रेस ने 8 उम्मीदवारों को चुनाव लड़ने की हरी झंडी दे दी है। लेकिन, एमएलसी चुनाव की तारीख की घोषणा ही नहीं की जा रही है। राजद को इस चुनाव में खासी रुचि इसलिए है कि इस बार पंचायत स्तर पर हुए चुनाव में ज्यादातर जनप्रतिनिधि राजद समर्थक ही हैं। इसलिए राजद को लग रहा है कि 24 सीटों में ज्यादातर पर जीत उनके हिस्से आ सकती है। ग्राम कचहरी के सरपंच और पंच को अभी वोटिंग का अधिकार नही मिला है  सरकार भी  चाहती है कि इन्हें भी ये वोटिंग का अधिकार मिले।

निर्वाचन आयोग भाजपा के दबाव में

राजद के प्रदेश प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने कहा कि 7 महीने बीत जाने के बाद भी निर्वाचन आयोग ने विधान परिषद चुनाव की अधिसूचना जारी नहीं की है। राजद के प्रदेश प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने कहा कि निर्वाचन आयोग भाजपा के दबाव में चुनाव का अनुसूची जारी नहीं कर रहा है।

भाजपा का भी आया पलटवार

भाजपा प्रवक्ता प्रेम रंजन पटेल ने कहा है कि चुनाव आयोग स्वतंत्र निकाय है। वहीं, निष्पक्ष चुनाव कराती है। चुनाव कब होंगे। यह तय करना आयोग का काम है। यह निष्पक्ष तरीके से कुछ होता है तो राजद आरोप लगाने लगती है। उनका लाठीतंत्र नहीं चल रहा है। टीएन शेषण जब आए तब लोगों ने चुनाव आयोग को जाना। केजे राव आए तो उन्होंने चुनाव में मनमानी करने वालों पर लगाम लगायी। अब के आयुक्त भी निष्पक्ष चुनाव करा रहे हैं। राजद के कार्यकाल में तो उनके लोग बूथ लूट करवाते थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.