LIVE Russia attack on Ukraine 24 घंटो में हमला कर सकता है रुस यूक्रेन पर

LIVE Russia attack on Ukraine 24 घंटो में हमला कर सकता है रुस यूक्रेन में बुधवार को छुट्टी का ऐलान LIVE Russia attack on Ukraine

यूक्रेन पर क्यों हमला करना चाहता है रूस? 

क्या है मामला क्या रुस यूक्रेन पर हमला करने जा रहा है पूरी खबर जनने के लिए पूरी खबर पढ़े।

LIVE Russia attack on Ukraine

LIVE Russia attack on Ukraine 

24 घंटो में हमला कर सकता है रुस यूक्रेन में बुधवार को छुट्टी का ऐलान हाल ही मे यूक्रेन के राष्ट्रपति ने फेसबुक पर एक पोस्ट किया जिसके बाद दुनिया में डर का माहौल बन गया है।

सोमवार को यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोडिमिर जेलेंस्की ने बुधवार 16 फरवारी को छुट्टी कि घोषणा की है।

क्योकि उस दिन यूक्रेन पर रुस हमला कर सकता है।LIVE Russia attack on Ukraine
साथ ही अमेरिका ने भी यहां अपना दूतावास को भी खाली करवा दिया है। इसी बिच रुसी सैनिक की पब्जी स्टाइल में युध्दाभ्यास करते फोटो विडियो भी जरी हुए है। ज़ेलेंस्की ने फेसबुक पर लिखा है कि एकता दिवस घोषित करने वाले डिक्री पर पहले ही हस्ताक्षर किए जा चुके हैं। हमें बताया गया है कि 16 फरवरी हमले का दिन होगा। अमेरिका की खुफिया एजेंसियों का कहना है कि अब रूस ने 1 लाख 30 हजार रूसी सैनिकों का जमावड़ा यूक्रेन की सीमाओं पर कर तैनात कर दिया है. रविवार को अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से लगभग एक घंटे बात की उन्हें यूक्रेन पर किसी भी तरह के सैन्य एडवेंचर के खिलाफ समझाया और चेताया भी. लेकिन व्हाइट हाउस का कहना है कि 60 मिनट लंबी चली इस बातचीत से हालात में बदलाव के कोई संकेत नहीं हैं.

LIVE Russia attack on Ukraine
यूक्रेन की सेना की ट्रेनिंग

बाइडन ने रविवार को यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोडिमिर जेलेंस्की घंटे भार बात करके यूक्रेन मदद का भारोसा दिलाया है।
वही जर्मनी ने भी यूक्रेन पर हमला होने कि स्थिति में रुस को चेतावनी दि है. वैसे जर्मनी के चांसलर ओलफ शुल्ज मंगलवार को रुस के दौरे पर जा रहे है. वहा जाकर राष्ट्रपति पुतिन से मिलकर तनाव कम करने का प्रयास करेंगे। और इससे पहले वह यूक्रेन जाएंगे। LIVE Russia attack on Ukraine

अमेरिका ने बताया है कि रुस ने यूक्रेन घेरबंदी के लिए मिसाइल एयर फोर्स नेवी फोर्स और स्पेशल फोर्सेज को तैनात किया है.

भारतीय दूतावास ने भारतीयों से यूक्रेन छोड़ने को कहा

अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने कहा है कि बातचीत करने के बावजूद रास्ता बंद नही हूआ है। रुसी हमले की आशंका होने के बावजूद यूक्रेन ने अपना अपना आकाशीय मार्ग बंद नही किया हैं। लेकिन कई प्रमुख एयारलाइन कंपनियो ने अपनी उड़ान की सेवाए कम कर दी है। अगर दो तिन में तनाव कम ना हुआ तो बाकी प्राइवेट कंपनियो ने आपनी सेवाए बंद करने का संकेत दे दिया है। LIVE Russia attack on Ukraine

कब हमला करने जा रहा है रूस?

एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार अमेरिका के एक अधिकारी ने खुफिया जानकारियों के विशलेषण के आधार पर कहा है कि रूस बुधवार यानी कि 16 फरवरी कोहमला कर सकता है- हालाकिं एक और रिपोर्ट के अनुसार रूस चीन में 20 फरवरी को विंटर ओलंपिक खत्म होने से पहले हमला कर सकता है.

यूक्रेन में हथियारो का जखीरा

यूक्रेन को उसके सहयोगी देशो और अमेरिका से मिलने जा रहा है हथियारो का जखीरा। रविवार को अमेरिका के दो और मालवाहक विमान 180 टन हथियार और गोला-बारूद लेकर कीव पहुंचे। यूक्रेन के रक्षा मंत्री ओलेक्सी रेजनीकोव ने बताया है कि अभी तक 17 विमानों से आए 1500 मीट्रिक टन हथियार और गोला-बारूद प्राप्त हो चुके हैं।

अखिर यूक्रेन पर क्यों हमला करना चाहता है रूस?

पिछले एक माह से यूक्रेन की सीमा पर रूसी सेना के जमावड़े से पश्चिमी एशिया का यह इलाका तनावपूर्ण हो गया है और इसमें शामिल अमेरिकी हित के कारण यह तनाव कम होने के बजाए बढ़ता जा रहा है. अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने 19 जनवरी 2022 को कहा था कि वह समझते हैं कि रूस यूक्रेन पर हमला करेगा और रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन को चेताया कि वह ऐसा करने पर पछताएंगे.

पुतिन यूक्रेन पर हमले की धमकी क्यों दे रहे हैं?

यूक्रेन के साथ लगती सरहद पर सैन्य तैनाती बढ़ाने का कारण है कि पुतिन में दंड से मुक्ति की भावना. पुतिन यह जानते हैं कि पश्चिमी राजनीतिक नेता जो रूसी हितों की हिमायत करते हैं और पद छोड़ने के बाद रूसी कंपनियों के साथ जुड़ जाते हैं. पश्चिमी देशों ने 2020 के अमेरिकी राष्ट्रपति चुनावों में हस्तक्षेप और कंपनियों और अमेरिकी सरकार के लिए काम करने वाले लगभग 18,000 लोगों के खिलाफ साइबर हमले को लेकर रूस के खिलाफ ज्यादातर प्रतीकात्मक प्रतिबंध लगाए हैं. कई मौके पर पुतिन ने देखा है कि कुछ प्रमुख पश्चिमी राजनीतिक नेताओं ने रूस के साथ गठबंधन किया है. ये गठबंधन पश्चिमी देशों को पुतिन के खिलाफ एकीकृत मोर्चा बनाने से रोक सकते हैं

इसे भी पढ़े

Click Here

Leave a Reply

Your email address will not be published.